Tuesday, May 28, 2024
Homeन्यूज़अनंतनाग में मुठभेड़ में शहीद हो गए हिंदी समाचार 2023 | Encounter...

अनंतनाग में मुठभेड़ में शहीद हो गए हिंदी समाचार 2023 | Encounter In Anantnag Hindi News 2023

news18 hindi

Encounter In Anantnag Hindi News 2023

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में बुधवार (13 सितंबर) को आतंकवादी समूहों के साथ एक मुठभे ड़ में तीन वीर जवानों ने अपने प्राणों को न्यौछावर कर दिया। इन शहीद जवानों में दो सेना के अधिकारी और एक जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारी शामिल हैं।

भारतीय सेना के अधिकारी ने बताया कि अनंतनाग में आतंकवादी समूहों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना के कर्नल और मेजर, और जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीएसपी ने देश के लिए बड़ा बलिदान दिया है। अनंतनाग मुठभेड़ की जिम्मेदारी आतंकी संगठन टीआरएफ ने ली है।

कर्नल, मेजर और डीएसपी के शहीद होने के बाद, उन्होंने बताया कि गड़ोले इलाके में आतंकी समूह के खिलाफ मंगलवार शाम को ऑपरेशन शुरू हुआ था, लेकिन रात में इसे बंद कर दिया गया। बुधवार सुबह आतंकवादी समूहों की तलाश तब फिर से शुरू हुई जब सूचना मिली कि वे एक ठिकाने पर दिखे गए हैं।

तलाशी अभियान रात भर जारी रहेगा और इलाके में आतंकवादी समूह को ढेर करने के लिए विशेष बलों को तैनात किया गया है। बताया जा रहा है कि 3 से 4 आतंकी मौजूद हैं।

मेजर आशीष मूल रूप से हरियाणा के पानीपत के बिंझौल गांव के रहने वाले थे। फिलहाल उनका परिवार पानीपत के सेक्टर-7 में किराए के मकान में रहता है।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने इस हादसे पर दुख जताया है और कहा, “आज अनंतनाग में ड्यूटी के दौरान शहीद जवानों के परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। हिंसा के इस घोर अदम्यनुपात के लिए कोई जगह नहीं है।”

सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेन्द्र द्विवेदी ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादियों को भारत में घुसने के लिए बड़ा प्रयास कर रहा है और इसलिए आंतरिक सुरक्षा के क्षेत्र में सुरक्षा की गई है। वहीं, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने भी इस हादसे के पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्य

क्त की और आतंकवाद के खिलाफ एकजुट रहने का संकेत दिया।

republicworld

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने इस हादसे के पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और आतंकवाद के खिलाफ एकजुट रहने का संकेत दिया।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने भी इस दुखद घड़़ी में सहानुभूति व्यक्त की और शहीदों के परिवारों के प्रति आपकी शोक व्यक्त की।

यह हादसा बेहद दुखद है और देश के सुरक्षा बलों के वीर जवानों की शहादत को याद करना और उनके परिवारों के प्रति हमारी संवेदना और समर्थन हम सब की जिम्मेदारी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments